कोरोनावायरस के प्रसार को कम करने के लिए पूरे देश में 54 दिनों से लॉकडाउन जारी है. इस सरकारी सूत्रों के अनुसार खबर मिल रही है कि लॉकडाउन को 31 मई तक बढ़ाया जाएगा. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में चौथे चरण की लॉकडाउन की घोषणा की थी. हालांकि उन्होंने कहा था कि लॉकडाउन का चौथा चरण नए रंग रूप वाला होगा और इसके लिए 18 मई से पहले दिशा-निर्देश जारी किए जाएंगे. गृह मंत्रालय की तरफ से हालांकि इसे लेकर अभी तक कोई निशा-निर्देश जारी नहीं किये गए हैं. सरकारी सूत्रों ने बताया कि चौथे चरण के लॉकडाउन में सभी जोनों में और अधिक आर्थिक गतिविधियों को अनुमति दी जाएगी.
सूत्रों ने बताया कि चौथे चरण के लॉकडाउन में राज्यों को निर्णय लेने की स्वतंत्रता दी जाएगी. हालांकि कुछ राज्यों ने केंद्र से निर्णय लेने के लिए कहा था. एयरलाइन यात्रा के बारे में अभी भी विचार किया जा रहा है. राज्य के अधिकारियों से सलाह के बाद इस पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा. सूत्रों ने बताया कि मुख्य सचिव और राज्य के पुलिस प्रमुखों के बीच बैठक के बाद आज शाम लॉकडाउन-4 को लेकर नए दिशा-निर्देश घोषित किए जाने की संभावना है।

मालूम हो कि केंद्र की घोषणा से पहले ही तीन राज्यों- महाराष्ट्र, तमिलनाडु और पंजाब ने 31 मई तक लॉकडाउन बढ़ा दिया है.वहीं, चार अन्य राज्यों, हरियाणा, तेलंगाना, बिहार, ओडिशा और असम ने भी लॉकडाउन को बढ़ाए जाने की सिफारिश की है, जिन पर गृह मंत्रालय ने हस्ताक्षर नहीं किए हैं.

बता दें कि देश लॉकडाउन पहला फेज- 25 मार्च से 14 अप्रैल तक 21 दिनों के लिए लगाया गया था. इसके बाद दूसरे चरण के लॉकडाउन की घोषणा की गई, जो 15 अप्रैल से 3 मई तक (19 दिन) रहा. वही, इसके बाद 14 दिनों के लिए 4 मई को लॉकडाउन के तीसरे फेज की घोषणा की गई जो 17 मई यानी आज खत्म हो रहा था. बता दें कि देश में पिछले 54 दिनों से लॉकडाउन लागू है. हालांकि इसके बावजदू भी कोरोना संक्रमण के मामले दिन बन दिन बढ़ते जा रहे हैं।

देश में कोरोनावायरस से अब तक 2872 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि संक्रमितों की संख्या 90,927 हो गई है. वहीं, पिछले 24 घंटों में कोरोना के 4987 नए मरीज़ मिले हैं और 120 लोगों की जान गई है. बीते 24 घंटे में अब तक सबसे ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. हालांकि, राहत की बात यह है कि 34109 मरीज कोरोना को मात देने में सफल रहे हैं. कोरोना संक्रमण के मामलों की लिहाज महाराष्ट्र, दिल्ली, तमिलनाडु और गुजरात शीर्ष राज्यों में हैं।