गोरखपुर । गोरक्ष पीठाधीश्वर और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ  के पिता श्री आनंद सिंह बिष्ट का निधन एक अपूरणीय क्षति है। उक्त विचार गोरखपुर जर्नलिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष रत्नाकर सिंह ने व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि यह श्री बिष्ट के द्वारा दिया गया संस्कार ही था जिन्होंने योगी जी के कर्म योगी स्वरूप का विराट दर्शन कराया । एक तरफ पिता की अर्थी पड़ी थी, दूसरी तरफ कर्म पथ था और  योगी  ने कर्म पथ का अनुसरण किया। ऐसा कर्मठ कर्मयोगी ना देखा गया और न सुना गया ।ऐसे कर्म योगी विराट व्यक्तित्व के योगी जी को जन्म देने वाले आनंद सिंह बिष्ट जी को निश्चित ही ईश्वर ने अपने समीप सम्मानित स्थान दिया होगा। मृत आत्मा की शांति की प्रार्थना के साथ शत-शत नमन।