बहनों ने भाई की कलाई पर राखी बांध उनके सुख सौभाग्य की कामना की। भाइयों ने भी तोहफे के साथ बहन की जीवनभर रक्षा का संकल्प लिया।

रेलवे लोको ग्राउंड में कौमी एकता कमेटी के उपाध्याय आफताब अहमद के नेतृत्व में रक्षाबंधन के मौके पर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ हिंदू बहनों ने मुस्लिम भाइयों को बहनों ने भाई की कलाई पर राखी बांध उनके सुख सौभाग्य की कामना की। भाइयों ने बहनों को गिफ्ट में मार्क्स सेनीटाइजर एवं पौधा गिफ्ट में दिया बहनों ने कहा कोरोना वायरस के वैश्विक महामारी से लॉकडाउन को देखते हुए हम लोग के लिए बहुत अनोखा गिफ्ट है सुरक्षा को देखते हुए रक्षाबंधन भाई-बहन का रिश्ता बेहद खास होता है। 

कौमी एकता कमेटी के उपाध्यक्ष आफताब अहमद ने कहा कि कोई भी त्योहार हो मोहब्बत और भाईचारा में विश्वास रखता है। इंसानियत और प्यार से बड़ा कोई धर्म नहीं है। वहीं रक्षाबंधन का इंतजार दोनों भाइयों बहनों का होता है बहन भाई को सबसे बेस्ट राखी बांधना चाहती है तो भाई उसे सबसे अच्छा गिफ्ट देना चाहता है। मानसी सिंह एवं संगीता सैनी ने कहा कि वहीं अक्सर भाई गिफ्ट के मामले में कन्फ्यूज रहते हैं। वे सबसे अच्छा गिफ्ट देना तो चाहते हैं पर उनकी समझ में नहीं आता कि आखिर क्या दें जिससे कि बहन खुश हो जाए। बहन की खुशी के लिए भाई कुछ भी कर गुजरता है। बहनो ने कहा की रक्षाबंधन का सबसे बड़ा गिफ्ट इस महामारी से बचने के लिए आप लोग मार्क्स जरूर लगाएं बहुत जरूरी हो तभी आप लोग घर से निकले तभी हम आप लोग बच सकते हैं ! आफताब अहमद ने कहा कि यह त्योहार आपसी भाईचारे संदेश देता है। कोरोना महामारी की वजह से सभी भाई बहन सोशल डिस्टैंसिंग रखते हुए इसके संक्रमण से बचने के उपाय अपनाएंगे और घरों में रहकर हंसीखुशी त्योहार मनाएंगे। इस मौके पर शाहिद शाह, मोहम्मद जावेद, डब्लू अंसारी, मुलायम यादव, मानसी सिंह, दीपांनसी, संगीता सैनी, मधु पटेल, संजय सिंह यादव, मोहम्मद आलम, सोनू सिंह, अंकित सैनी, आदि लोग उपस्थित रहे।।।