गोरखपुर जिले में कोरोना पॉजिटिव के मिलने का सिलसिला लगातार जारी है तमाम इलाकों को हॉटस्पॉट घोषित कर दिया गया है पुलिसकर्मी इन इलाकों की निगरानी कर रहे हैं ऐसे में पुलिस कर्मियों के संक्रमित होने की संभावना बहुत ज्यादा है खासकर थानों पर आने वाले आगंतुकों से भी संक्रमण फैलने का खतरा बना रहता है।जिसके मद्देनजर अब गोरखपुर के समस्त स्थानों पर कोविड-19 केयर हेल्प डेस्क की शुरुआत की गई है।

तिवारीपुर थाने पर बनाया गया कोविड केयर हेल्प डेस्क जिस पर एक पुलिसकर्मी की तैनाती की गई है जो आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग करती हैं।स्क्रीनिंग प्रक्रिया में थर्मल स्कैनिंग, ऑक्सीजन लेवल नापने के बाद आगंतुक का हाथ सैनिटाइज कराया जाता है। जिसके बाद उसे कार्यालय में दाखिल होने की अनुमति दी जाती है।यह नियम पुलिसकर्मियों पर भी लागू होता है जो बाहर से ड्यूटी करके थाने में प्रवेश करते हैं। हेल्पडेस्क बन जाने के बाद पुलिसकर्मी भी अब खुद को सुरक्षित महसूस कर रहे हैं क्योंकि उनको थाने में आने वाले थे हमेशा खतरा बना रहता था। प्रारंभिक जांच में अगर किसी में कोरोना के लक्षण दिखाई देते हैं तो तत्काल स्वास्थ विभाग को सूचित करके उसके इलाज की व्यवस्था कराई जाती है।