भारत में कोरोनावायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ता जा रहा है. शुक्रवार की शाम संक्रमितों का आंकड़ा देश में 5 लाख के पार हो गया. भारत दुनिया में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों की सूची में केवल अमेरिका, ब्राजील और रूस से ही पीछे है. कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र में शुक्रवार को 5000 से ज्यादा मामले दर्ज किए गए जिसके बाद वहां संक्रमितों की संख्या 1,52,765, हो गई. शुक्रवार को महाराष्ट्र में 5024 नए मामले सामने आए जबकि 175 और लोगों की मौत हो गई. राज्य में 65,829 एक्ट‍िव मामले हैं. अकेले मुंबई में कोरोना के मामले बढ़कर 72,175 हो गए हैं।

देश में कोरोना के संक्रमितों की संख्या के हिसाब से तीसरे नंबर पर तमिलनाडु है जहां शुक्रवार को 3509 मामले सामने आए जो कि राज्य में एक दिन में सामने आए सबसे ज्यादा मामले हैं. राज्य में संक्रमितों की संख्या अब 70,977 हो गई है. वहीं 45 और लोगों की मौत के बाद यहां मृतकों का आंकड़ा 911 हो गया है।

 शुक्रवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार देश में कोरोना के अब तक कुल 490,401 पॉजिटीव मामले सामने आए थे. वहीं मृतकों की संख्या 15300 से ज्यादा हो चुकी है. इसके अलावा 285637 मरीज इस खतरनाक वायरस को हराने में कामयाब रहे हैं. पिछले 24 घंटों की तो आपको बता दें कि इस दौरान देश में सबसे ज्यादा 17296 नए मामले सामने आए हैं. यह 24 घंटों में आए अब तक के सबसे ज्यादा मामले हैं. इस दौरान 407 लोगों की मौत भी हुई. रिकवरी रेट के आंकड़े में सुधार देखने को मिला है. यह 58.24 फीसदी पर पहुंच गया है।

देश में लगातार सातवें दिन 14,000 से अधिक मामले सामने आए हैं और एक जून से 26 जून तक के बीच संक्रमितों की संख्या 2,99,866 का उछाल आया है. स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी के अनुसार दिल्ली, चेन्नई, ठाणे, मुंबई, पालघर, पुणे, हैदराबाद, रंगा रेड्डी, अहमदाबाद और फरीदाबाद उन 10 जिलों तथा शहरों में शामिल हैं जहां देश में कुल मामलों में से आधे से अधिक 54.47 प्रतिशत मामले हैं। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) के अनुसार 25 जून तक कुल 77,76,228 नमूनों की जांच की जा चुकी है जिनमें से 2,15,446 नमूनों की जांच बृहस्पतिवार को की गई. देश में कोविड-19 जांच प्रयोगशालाओं की संख्या बढ़ाने के क्रम में पिछले 24 घंटे में 11 नयी प्रयोगशालाओं को शामिल किया गया है. भारत में अब कुल 1,016 कोविड-19 जांच प्रयोगशालाएं हैं जिनमें से 737 सरकारी और 279 निजी प्रयोगशालाएं हैं।